हरियाणा में नौकरी करने वाली महिलाओ के बच्चो को पालेगी हरियाणा सरकार | हरियाणा सरकार खोलेगी क्रैच केंद्र

Haryana Creche Yojana in Hindi :- हरियाणा राज्य में काम करने वाली महिलाओ के लिए एक बहुत बड़ी खुशखबरी है। ख़ुशख़बरी ऐसी की ख़ुशी से झूम उठँगी हरियाणा की महिलाये। दोस्तों हरियाणा में काम करने वाली महिलाओ के लिए हरियाणा सरकार ने एक बहुत बड़ा कदम उठाया है। हरियाणा सरकार क्रैच केंद्र खोल कर महिलाओ को तोफहा देना चाहती है।

जिन महिलाओ के बच्चे छोटे है। तक जो महिलाये अपने छोटे बच्चो की वजह से कही नौकरी नहीं करने जाती तो ऐसी महिलाओ की समस्य को दूर करने के लिए हरियाणा सरकार से क्रैच केंद्र खोलने का फैसला लिया है। अब नौकरी पर जाने वाली महिलाओ को अपने छोटे बच्चो की टेंशन ख़तम हो जाएगी। क्युकी काम पर जाने वाली महिलाओ के बच्चो को देखभाल अब हरियाणा सरकार करेंगे।

Haryana Creche Yojana in Hindi

Haryana Creche Yojana, जी हाँ आपने एक दम सही सुना अगर आप कही नौकरी करने जाती है। और आपके छोटे छोटे बच्चे है जिनको आप डे केयर में छोड़कर जाती हो, जहा पर आपसे अच्छी खासी फीस ली जाती है। आपकी इस समस्य का समाधान हरियाणा सरकार ने कर दिया है। अब हरियाणा सरकार हर जिले में डे केयर खोलने जा रही है। और उस डे केयर की फ़ीस बहुत कम होगी।

हरियाणा सरकार डे केयर(क्रैच केंद्र) खोल कर महिलाओ की उनत्ति में योगदान दे रही है। सरकारी डे केयर में आपको मामूली फ़ीस देनी पड़ेगी ताकि आपके बच्चो को अच्छी सुविधा दी जा सके। अगर आपका बच्चा 6 महीने से लेकर 6 साल तक का है तो आप अपने बच्चो को सरकारी डे केयर में रख सकती है।

आप आपने बच्चो को 8 से 10 घंटो तक डे केयर से रख सकती है। आपके बच्चो की देखभाल करना , उनको खाना खिलाना , उनको सीखना इन सब के लिए आपको सिर्फ कुछ ही पैसे देने होंगे।

हरियाणा देश का पहला ऐसा राज्य बन गया है जो क्रेच पॉलिसी लेकर आया है। क्रेच वर्कर को 15 हजार और सहायिका को मिलेंगे साढ़े सात हजार रुपये महीना मिलेंगे। राज्यमंत्री श्रीमती कमलेश ढांडा ने बुधवार को क्रेच पॉलिसी को लेकर कहा कि राज्य सरकार द्वारा कामकाजी महिलाओं को ध्यान में रखते हुए यह पॉलिसी बनाई गई है।

Haryana Creche Yojana Details

क्रैच(डे केयर) में कुशल एवं प्रशिक्षित स्टाफ लगाया जाएगा। इसमें क्रैच वर्कर को 15 हजार रुपये और सहायिका को साढ़े 7 हजार रुपये सैलरी दी जाएगी। महिला एवं बाल विकास विभाग की मुख्य सचिव डॉ. सुमिता मिश्रा ने बताया है की 50 से अधिक कर्मचारियों वाले सभी संस्थानों को क्रेच खोलना अनिवार्य होगा। क्रैच(डे केयर) आपके बच्चों के खेलने के लिए खिलौने दिए जायेंगे। और उनको पौष्टिक भोजन भी करवा जायेगा। आपके बच्चो का नियमित रूप से स्वास्थ्य जांच और टीकाकरण की करवाया जायेगा।

मुख्यमंत्री मनोहर लाल पहले ही 500 क्रेच खोलने के निर्देश जारी किया हैं। अब तक हरियाणा राज्य के 16 जिलों में क्रेच चालू किए जा चुके हैं। कामकाजी महिलाओं के लिए कार्यालय से क्रेच तक की अधिकतम दूरी 500 मीटर तय की गई है।

Haryana Creche Yojana Fees

  • गरीबी रेखा से नीचे (बीपीएल) परिवारों के लिए ₹20 प्रति बच्चा प्रति माह शुल्क देना होगा।
  • जिस परिवार की सालाना आय एक लाख रुपये से कम है उनको 50 प्रति बच्चा शुल्क देना होगा।
  • जिस परिवार की सालाना आय 1.80 लाख तक है उनको 100 रु शुल्क देना होगा।
  • जिस परिवार की सालाना आय 1.80 लाख से तीन लाख के बीच है उनको रु. 250 माह देने होंगे।
  • जिस परिवार की सालाना आय तीन लाख से पांच लाख के बीच, रु. 350 माह देने होंगे।
  • जिस परिवार की सालाना आय पांच लाख से अधिक है उनको 500 प्रति माह देने होंगे।

प्रत्येक आंगनबाड़ी कार्यकर्ता उसके अधीन क्षेत्र में समय-समय पर बच्चों द्वारा इन वर्कशीटों पर किए कार्य का मूल्यांकन करेगी तथा उनके अभिभावकों को इस संबंध में जानकारी देगी ताकि वे घरों में बच्चों की अनौपचारिक शिक्षा पर ध्यान दें सकें।

क्रैच(डे केयर) महीने में 26 दिन खुला रहेगा। क्रैच(डे केयर) स्टाफ और पेरेंट्स को ID कार्ड भी बना कर दिया जायेगा। क्रैच(डे केयर) में किसी भी बच्चे को अकेला नहीं छोड़ा जायेगा। क्रैच(डे केयर) में बच्चो को सुबह का नास्ता, दोपहर का लंच और शाम को स्नैक्स भी दिए जायेंगे। इन सभी का खर्चा हरियाणा सरकार उढ़ायेगी। क्रैच(डे केयर) में बच्चो के लिए सोने के लिए और फीडिंग के लिए रूम भी उपलब्ध होंगे।

Haryana Creche Yojana के तहत क्या सुविधाएं प्रदान की जाती हैं ?

  1. पेय जल
  2. बच्चो की निगरानी
  3. स्वच्छता सुविधाएं
  4. बच्चों के लिए सोने की सुविधा
  5. स्वास्थ्य जांच एवं टीकाकरण
  6. बच्चों के लिए स्थानीय रूप से प्राप्त पूरक पोषण
  7. तीन वर्ष से कम उम्र के बच्चों के लिए प्रारंभिक उत्तेजना
  8. तीन से छह वर्ष की आयु के बच्चों के लिए प्री-स्कूल शिक्षा

Haryana Creche Yojana ke liye आवेदन कैसे करें

क्रेच स्कीम के तहत हर क्षेत्र में अलग-अलग क्रेच पंजीकृत होते हैं। आपको बस वहीं जाकर अपने डॉक्यूमेंट सबमिट करने हैं। अधिक जानकारी के लिए आप ऑफिशियल वेबसाइट पर भी जा सकते हैं।

दोस्तों मैं उम्मीद करता हु की आपको हमारे द्वारा जी गयी जानकारी पसंद आयी होगी। अगर आपको जानकारी अच्छी लगी तो अपने दोस्तों के साथ जरूर शेयर करे।

Leave a Comment